“हीरो बनने के “चक्कर में किया खेल की भावना के साथ खिलवाड़”


श्रीलंकाई कप्तान सन्गकारा  हो सकते हे निलम्बित…. बुद्धवार को वनडे में रन्दीव के जानबूझकर नो बाल फ़ैकने पर श्रीलंकाई किक्रैट टीम के मैनेजर और बी. सी. सी. आई  के आधिकारीयों ने बोर्ड को सोंपी रिपोर्ट…
बिरेन्द्र सहवाग की माने तो श्रीलंका के क्रिकेटर रन्दीव  मैच खतम होने के बाद सेहवाग से मफ़ी मंगने उनके कमरे पर पहुचे। सुन्ने में ये आ रहा है कि सन्गकारा ने ही रन्दीव को नो बॉल फ़ैकने के लिये कहा था…। सहवाग से अपनी इस क्रिकेट को शर्मसार कर देने  वली हरकत पर रन्दीव ने माफ़ी तो मागीं पर सहवाग को  रन्दीव की इस हरकत पर माफ़ी मागंने से ओर अधिक गुस्सा आ गाया और सहवाग ने सारी बाते मीडीया के सामने रख दी….  सहवाग गुस्से में क्यों नही भी आते अरे भई गुस्सा तो आना ही था क्योन्कि बल्लेबाजो के लिये बढी ही चुनोति पूण कही जाने वाली “दाम्बूला” पिच पर एक शतक लगाने से सिर्फ़ एक से जो चूक गये सहवाग.. गुस्सा तो जाईज है ऐसे हर किसी को गुसा आ जाये…

जो भी हो रन्दीव ने अपनी इस हरकत से खेल की भावना के साथ शर्मनाक खिलवाड़ किया है……….।

Advertisements

1 Comment

Filed under Uncategorized

One response to ““हीरो बनने के “चक्कर में किया खेल की भावना के साथ खिलवाड़”

  1. हीरो तो बने नहीं पर क्रिकेट जगत के सम्मुख लंकाई जीरो जरुर बन गए हैं …

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s