सावधान, जिस संस्थान मे आप प्रवेश लेने जा रहे है वो फ़र्जी तो नही?


इस बाजारवादी दौर में उत्पादक  अपनी चीज को कुछ भी करके बस बेचने पर लगा हुआ है| आज के दौर में एक नए प्रकार की बाजारवाद की जो अंधी चली है उसने  शिक्षा के क्षेत्र में भी बाजारीकरण को कब घोल दिया इसका शायद ही हमें एक सटीक अनुमान हो पाया हो। आज अगर एक मोटे अनुमान की माने तो निजी उच्च शिक्षा संस्थानों का दायरा 6.5  अरब डॉलर तक बढ़ गया है|  इतने बढे दायरे में पता नहीं कितने शिक्षण संस्थान तो ऐसे होगे जो कही पर आज भी किसी न किसी भोले भाले छात्र को कोर्स समाप्ती के समय नोकरी का झासा देकर अपनी ठगी करने की दूकान को चला रहे होंगे|  
हाल ही में बारवी की परीक्षाएं ख़त्म हुई है और कुछ दिनों में ही परिणाम भी घोषित हो ही जायेंगे| ऐसे में सभी छात्र  अपने आगे के करियर को लेकर चिंतित होंगे और किसी तरंह प्रवेश के लिए कोलेजो की तलास में जुटे गए है| पर आज हमारे भारत में अच्छे कोलेजो की संख्या बहुत ही कम है|  जब कोलेजो की संख्या छात्रों की तादात से बहुत कम होगी तो जाहिर है कि कड़ी प्रतियोगिता का सामना हर एक छात्र को करना ही पड़ेगा|  लाखो छात्र प्रवेश के लिए दर दर भटकते है तब जाकर उनमे से कुछ ही छात्रों को प्रवेश पाने में कामयाबी मिल पाती है|  कड़ी प्रतियोगिता के बढ़ते इस रास्ते पर दोड़ते हुये कड़ी से कड़ी प्रतियोगिता की मार झेल रहे छात्रों को गुमराह करने के लिए भी कई फर्जी संस्थान बाजार में उतर आये है| जो हमेशा भोले-भले छात्रों को अपने  ठगी के जाल में फासने के लिए हर दम तैयार बैठे होते हैं|  ऐसी स्थिति को देखते हुए छात्रों को सयंम बरतने के साथ सतर्क भी रहने की बेहद जरूरत है|  इस बारे में बिलकुल ध्यान रखे कि वर्तमान में कोई भी संस्थान सौ प्रतिशत प्रमाण भले ही दे लेकिन आज भारत में बेरोजगारी और बढती हुई जनसँख्या को देखते सभी को बराबर का रोजगार मिल पायेगा, ये सटीक अंदाजा लगाना बहुत ही कठिन है|
आप जिस संस्थान में प्रवेश लेने जा रहे है क्या वह यूजीसी या किसी सरकारी संगठन से मान्यता प्राप्त है?, संस्थान की फीस उचित है और अगर ज्यादा वसूल रहा है तो क्यों?  इन दोनों सवालों का अगर आपको  किसी भी संस्थान में प्रवेश लेने से पहले उत्तर मिल जाता है तो आप ठगी का शिकार होने से काफी हद तक अपने आपको बचा सकते है, नही तो एक बडी ठगी शिकार का होने में जरा भी देर नही लगेगी|  यूजीसी बहुत से विश्विधालयो पर छापा मारकर फर्जी घोषित कर चुकी है|
चोकने वाली बात ये है कि जहाँ उत्तर प्रदेश 9 फर्जी संस्थानों के मामले में योजीसी के अनुसार पहले नंबर पर रहा था वहीँ देश कि राजधानी दिल्ली ने 6 फर्जी संस्थानों के साथ दूसरा स्थान हासिल किया था| ये तो सिर्फ यूजीसी द्वारा एक ही बार के छापे में सामने आई सच्चाई है लेकिन अभी भी पता नहीं कितने ओर ठग, संस्थान के नाम का नकाब पहने छात्रों को शिकार बना रहे है|
 आइये यूजीसी द्वारा घोषित फर्जी विश्विधालयो पर नजर डाल लेना उचित होगा:
राजनीधा दिल्ली में-
१. वारानासया संस्कृत विश्विधालय दिल्ली
२. वारानसी विश्विधालय जगत पूरी, दिल्ली
३. कोमर्शियल विश्विधालय दरियागंज दिल्ली
४. यूनाईटेड नेशन विश्वविधालय दिल्ली
५. वोकेशनल विश्वविधालय दिल्ली
६. ऎडिआर-सेंट्रिक ज्यूरिडिकल विश्वविधालय, ऎडिआर हाउस, गोपाल टावर, दिल्ली-110008
उत्तर-प्रदेश में-
१. महिला ग्राम विश्वविधालय इलहाबद, उत्तर-प्रदेश
२. इंडियन ऎजूकेशन काऊंशिल ओफ़ यूपी, लखनऊ
३. गांधी हिन्दी विध्यापीठ, प्रयाग, इलहाबाद
४. नेशनल यूनीवसिटी ओफ़ इलेक्ट्रो होम्योपेथी, कानपुर
५. नेताजी सुबास चन्द्र बोस विश्वविधालय अलीगढ
६. उत्तर-प्रदेश विश्विधालय, कोसी कला मथुरा
७. महाराना प्रताप शिक्षा निकेतन विश्वविधालय, प्रतापगढ
८. गुरूकुल विश्वविधालय व्रन्दावन
९. इंद्रप्रस्त शिक्षा परिषद, माकन पुर
बिहार में-
१. मैथीली विश्वविधालय दरबंगा बिहा।
कर्नाटक में-
१. बादागनवी सरकार वर्ल्ड ओपन यूनीवर्सिटी, कर्नाट।
केरल में-
१. सेंट जोन्स यूनीवर्सिटी किशनथम केरला।
मध्यप्रदेश में-
१. केसरवानी विद्दयापीठ जबलपुर।
महाराष्ट्र में-
१. राजा अरेबिक यूनीवर्सिटी नागपुर।
तमिलनाडू में-
१. डी० डी० बी० संस्क्रत यूनीवर्सिटी, पुतुर

आज के बाजारीकरण के बढते प्रभाव को देखते हुये अन्त में यही कहा जा सकता है कि किसी भी संस्थान मे प्रवेश के समय पूरी सतर्कता बरते और अच्छी तरहं से जानकारी जुटाने के बाद ही प्रवेश लें। अगर किसी छात्र को किसी संस्थान की मान्यता पर जरा भी शक होता है तो वह तुरंत यूजीसी विभाग से संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है जिससे यूजीसी के दिशा निर्देशो के अनुसार उचित सहायता प्राप्त की जा सकती है।

Advertisements

1 Comment

Filed under khabarindiya, need for aware

One response to “सावधान, जिस संस्थान मे आप प्रवेश लेने जा रहे है वो फ़र्जी तो नही?

  1. ankit

    हम mgr univ channai मे पढते है मरा univ ugc से reconized है पर उसे blacklist कर दिया गया है

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s